इच्छापूर्ण बालाजी मंदिर सरदारशहर 

​कहते हैं यहां से कोई खाली हाथ नहीं लौटता। इस चौखट पर मत्था टेकने वालों की हर इच्छा पूरी होती है। यहां आकर सारे दुख-दर्द दूर हो जाते हैं। मन को सुकून भी मिलता है। ये जगह है इच्छापूर्ण बालाजी मंदिर सरदारशहर ।


LORD HANUMAN
​ICHHA PURAN BALAJI TEMPLE, SARDARSHAHAR
​Town: Sardarshahar
​State : Rajasthan
​Country : India
​Nearest City : Bikaner
​Best Season To Visit : All
​Languages : Hindi , English and rajasthni
​Temple Timings : 5.00 AM and 9.00 PM.
​Photography : Allowed


​सरदारशहर के बाहर इच्छापुरण  बालाजी मंदिर। मंदिर में हनुमानजी की मूर्ति बैठी हुई मुद्रा में दिखाई देती है और अपने भक्तों को आशीर्वाद देती है। पूरे मंदिर का निर्माण द्रविड़ शैली में किया गया है। मंदिर परिसर में सभी तरह के शिल्प और मूर्तिकला की प्रचुरता है। मंदिर की दीवारों के बाहर उत्कृष्ट मूर्तियां जो भारतीय संस्कृति, सभ्यता, परंपराओं और आध्यात्मिकता की आत्मा को प्रदर्शित करती हैं।

​इस मंदिर के अन्य मुख्य आकर्षण भगवान राम और भगवान गणेश के परिवार की प्रतिमाएं हैं। मंदिर के गेट पर गणेश अपनी पत्नियों रिद्धि और सिद्धि के साथ हनुमान भक्तों का स्वागत करते हैं।


​इच्छापूरण बालाजी मंदिर सरदारशहर का इतिहास


  1. ​-13 फरवरी 2005 में प्रतिमा का अनावरण व इसी दिन दर्शनार्थ खोला गया।
  2. ​-12 बजकर 21 मिनट पर इच्छापूर्ण बालाजी मंदिर की प्रथम आरती।
  3. ​-सरदारशहर निवासी मूलचंद विकास कुमार मालू के सौजन्य से मंदिर का निर्माण।
  4. ​-दक्षिण भारत व पश्चिम बंगाल के कारीगरों ने द्रविड़ शैली पर मंदिर बनाया।
  5. ​-इस मंदिर में भगवान राम परिवार और भगवान गणेश की मूर्तियां भी हैं।
  6. ​-जयपुर के प्रजापति आर्ट ने इच्छापूर्ण बालाजी मंदिर की प्रतिमा डिजाइन की।
  7. ​-मंदिर गंगानगर किशनगढ़ मेगा हाई वे पर सरदारशहर से 
  8. ​सात किमी पहले स्थित है।
  9. ​-करीब सात एकड़ (11 बीघा) जमीन में फैला हुआ बालाजी मंदिर परिसर बेहद आकर्षक है।


​इच्छापूरण बालाजी मंदिर सरदारशहर के पुजारी घनश्याम बिरला दावा करते हैं कि यूं तो दुनियाभर में इच्छापूर्ण बालाजी के नाम से कई मंदिर हैं, मगर सरदाशहर स्थित यह विश्व का ऐसा इकलौता मंदिर है, जिसमें बालाजी की प्रतिमा राजशाही दरबार के रूप में हों और बालाजी राजा की तरह आशीर्वाद की मुद्रा में विराजमान हों। मंदिर पौराणिक शैली पर बना है। इसमें बिरला मंदिर जयपुर और सोमनाथ मंदिर गुजरात को मिलाजुला रूप है।

अगर post अच्छी लगी पर जानकारी अच्छी लगी तो शेयर करे 👇

​इच्छापूरण बालाजी मंदिर सरदारशहर