लोक परिवहन की बस ने सास बहू को कुचला

सरदारशहर में

दिल्ली रोड़ पर फोगां बस स्टेण्ड पर एक तारानगर की तरफ से आरही लोक परिवहन की बस ने लापरवाही से चलाते हुए फोगां की सास बहू को कूचल दिया और चालक बस को लेकर भाग निकला। बस स्टेण्ड पर खड़े अन्य लोगों ने एक पीकअप लेकर बस का पीछा किया और नैणासर के पास एक ढाबे पर बस के लगे खून को धोते हुए पकड़ा और वापस घटना स्थल पर लेकर आये। इस घटना की सूचना मिलते ही सरदारशहर पुलिस के थानाधिकारी रणवीरसिंह मय पुलिस दल के मौके पर पहुंचे। मौके पर हजारों की संख्या में लोग एकत्रित हो चुके थे और मामला गंभीर होते देख पुलिस ने बस चालक को अपने कब्जे में लिया और भालेरी पुलिस व भानीपुरा पुलिस को तुरन्त पहुंचने के आदेश दिये। उग्र भीड़ ने बस में तोडफेाड़ शुरू कर दी जिसे रोका गया और समझाईश की गयी तथा जिला पुलिस अधीक्षक चूरू को संदेश देकर लाईन पुलिस का जाब्ता भी बुलाया गया। लेकिन ग्रामीणों की भीड़ ने मौके से दोनो मृतकों की लाशे उठाने नही दी।
घटना के अनुसार फोगां ग्राम की महिला ईमरती देवी 60 पत्नी कानाराम पारीक अपनी बीमार पुत्रवधु भगवतीदेवी पत्नी शिवभगवान को बीकानेर दिखाने के लिए ले जाने हेतु फोगां बस स्टेण्ड पर बस का इन्तजार कर रही थी। प्रात: 9:30 बजे के लगभग तारानगर की तरफ से रोड़वेज बस आयी और उसके पीछे लोक परिवहन की बस ने तेजगति से ऑवरटेक किया और साईड़ में खड़ी सास बहू को कुचल कर चली गयी। वहां खड़े अन्य लोग कुछ समझ पाते इससे पहले लोक परिवहन की बस दूर निकल गयी। लोगों ने वहां खड़ी एक पीकअप को लेकर उसका पीछा किया तो वह बस नैणासर के पास एक ढाबे पर बस के लगे खुन के निशान धोने का प्रयास कर रहा था। जिसे ग्रामीण पकड़ कर वापस घटना स्थल पर लेकर आये। तब तक घटना स्थल पर पुलिस भी पहुंच चुकी थी जिसने बस चालक को तुरन्त अपने कब्जे में ले लिया ताकि उसके साथ कोई अप्रिय घटना न हो। इस घटना पर वहां लगी भीड़ आक्रोसित हो गयी और बस के शिशे तोड़ डाले। कुछ ही समय में भालेरी व भानीपुरा पुलिस भी घटना स्थल पर पहुंच गयी और उग्र भीड़ को कंट्रोल किया।
मौके पर पहुचे अधिकारी मौके पर एएसपी प्रकाश शर्मा, एसडीएम मूलचंद लूणिया, तहसीलदार बीरबलनाथ सिद्ध, सीआई रणवीरसिंह, भानीपुरा एसएचओ मलकियतसिंह, भालेरी एसएचओ सुनिल मेघवाल एवं विधायक पुत्र केशरीचंद पहुंचे और ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया गया।
वाहनों की लगी लम्बी कतारें- घटना स्थल पर जाम लगने के कारण इस दिल्ली बीकानेर हाईवे पर फोगा स्टेण्ड के दोनो तरफ 5-5 किमी लम्बी वाहनों की कतारे लग गयी। पुलिस ने भालेरी की तरफ से आने वाले वाहनों को रोक कर चूरू की तरफ से सरदारशहर जाने के लिए रास्ता परिवर्तन किया तथा सरदारशहर के गाविमं सर्किल से इस मार्ग पर जाने वालों को रोक कर वाया चूरू होकर जाने का मार्ग बदला।
8 घण्टे की मश्कत के बाद बोड़ी उठाने दी आक्रोशित लोगों को समझाने में विधायक पुत्र केशरीचंद शर्मा और एसडीएम ने वार्ता कर पीडि़त परिवार जनों को मुख्यमंत्री सहायता कोष से तुरन्त राहत दिलाने एवं भालेरी थाने के दो पुलिसकर्मी को लाईन हाजीर करने और बस चालक के खिलाफ कानूनी शख्त कार्रवाई करने के आश्वासन पर 8 घण्टे बाद दोनो शवों को उठाने दिया और राजकीय अस्पताल में मेडिकल बोर्ड द्वारा पोस्टमार्टम करवा कर परिजानों के सुपुर्द किया गया।